संसद के बाहर सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों ने किया प्रदर्शन

कैनबराः आस्ट्रेलिया में स्थायी संरक्षण वीजा के स्थान पर अस्थायी वीजा व्यवस्था लाए जाने के बाद से शरणाíथयों के भविष्य पर मंडरा रही अनिश्चिता को लेकर यहां संसद के बाहर सैंकड़ों प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किया। ‘रिफ्यूजी एक्शन कोएलिएशन’ के प्रवक्ता इयान रिंतौल ने बताया कि सोमवार को ज्यादातर प्रदर्शनकारी प्रदर्शन करने के लिए मेलबर्न से 650 किलोमीटर की दूरी तय कर आये थे।

ये प्रदर्शनकारी इराक, ईरान, श्रीलंका, सूडान, सोमालिया के थे। उनमें म्यामां के रोहिंग्या मुसलमान भी थे। उनमें से ज्यादातर आस्ट्रेलिया में 3 साल या 5 साल के वीजा पर रह रहे हैं, जो शरणार्थियों के लिए उपलब्ध है। 2013 में जब कंजरवेटिव सरकार बनी थी, तब नौका से पहुंचने वाले शरणार्थियों को आने से रोकने के लिए यह अस्थायी वीजा व्यवस्था लाई गई थी। जो शरणार्थी नौका से नहीं आते हैं, वे स्थायी संरक्षण वीजा के हकदार होते हैं।