Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha
Anil Gupta

Anil Gupta

पूंछ (राजेन्द्र भगत) नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई है पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और जॉच प्रॉरभ कर दी है 

 

हरदेव मन्हास

जम्मू :-हर वर्ष की भांति इस बार भी विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने सदस्यता का अभियान अपने डोडा भदरवाह और किश्तवार मैं चलाने का संकल्प लिया जिसमे विद्यार्थी परिषद के प्रदेश सेह मंत्री श्री राजेश्वर सिंह जी ने मीडिया से राफ्ता करते हुए कहा इस सदस्यता के माध्यम से विद्यार्थी परिषद अपने विचार वाले छात्रों से मिलती है उन्होंने कहा विद्यार्थी परिषद सदस्यता शुरू होने से पहले संगठन का प्रचार करती है प्रतेयक स्कूलों, कॉलेजों एवं विष्व विद्यालय में छात्र हितो के लिए संघर्ष करती है तथा उनकी रुचि को मध्य नज़र रखते हुए बहुत सारे कार्यक्रम का आयोजन करती है, उन्होंने कहा आज विद्यार्थी परिषद डोडा ज़िला में अपनी पन्द्रह इकाइयों के साथ कार्य कर रही है जो कि बहुत महत्व रखता है, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के वरिष्ट कार्यकर्ता पिछले दो साल से डोडा ज़िला के अंदर संगठन के कार्यछेत्र को ऊँचायो तक ले जाने का कार्य कर रही है, सिंह ने कहा महत्व इस बात का नही है आप कितने पुराने कार्यकर्ता है बल्कि इस बात का है कि आप अपने कार्य छेत्र में अपने दायित्व के प्रति कितने सक्रिय है। अंत मैं उन्होंने पिछले कुछ रचनात्मक कार्य एवं आंदोलन को मीडिया के समक्ष रखा.

बाॅलीवुड अभिनेता सलमान खान अब कर्इ परेशानियाें से बाहर निकलने के बाद अपनी नर्इ फिल्म की शूटिंग में जुट गये हैं। वहीं इस फिल्म की शूटिंग की कुछ तस्वीरें साेशल मीडिया पर वायरल हाे रही हैं। जी हां, जानकारी के लिए बता दें कि सलमान खान की आने वाली फिल्म ‘रेस 3‘ की शूटिंग इन दिनाें कश्मीर में चल रही है। शूटिंग के दौरान सेट से सलमान खान की कुछ तस्वीरें सामने आई हैं। आइए आप भी डाले इन तस्वीराें पर एक नजर।

इन तस्वीरों में सलमान खान जीप चलाते हुए नजर आ रहे हैं, दिलचस्प बात ये है इस दौरान उनके साथ बॉडीगार्ड शेरा भी जीप में बैठे दिखाई दे रहा है। इसके साथ ही तस्वीर में देखा जा सकता है कि सलमान खान की जीप के पीछे बंदूक लिए दो कमांडो भी तैनात हैं। बता दें कि इस फिल्म की शूटिंग कनाडा, नेपाल और अमेरीका समेत कुछ और देशो में भी होगी।

विदेश में फिल्म की शूटिंग के लिए सलमान खान को काला हिरण मामले में सजा के बाद 25 मई से 10 जुलाई तक विदेश यात्रा की अनुमति दे दी गई है। मामले में सलमान को पांच साल कैद की सजा सुनाई गई है। हालांकि दो दिन बाद ही उन्‍हें जमानत मिल गई, लेकिन यह जमानत कई शर्तों के साथ दी गई थी। जमानत की शर्तों के अनुसार, वह देश छोड़कर नहीं जा सकते थे। 

इसके अलावा बता दें कि ‘रेस’ फ्रेंचाइजी की तीसरी फिल्म इस साल ईद के मौके पर रिलीज होने वाली है। इस बार फिल्म में बॉलीवुड के सुल्तान सलमान खान मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। सलमान के होने की वजह से उम्मीज जताई जा रही है कि फिल्म में पहले बनी दो फिल्मों से बेहतर और धमाकेदार एक्शन सीन होंगे। 'रेस 3' एक्शन फिल्म है जिसमें सलमान खान के साथ अनिल कपूर, बॉबी देओल, जैकलीन फर्नांडीज़, साकिब सलीम, डेज़ी शाह और फ्रेडी दारुवाला जैसे कलाकार नजर आएंगे। 

‘रेस 3’ का निर्देशन मशहूर कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा कर रहे हैं। बता दें कि हाल ही में सलमान खान ने एक सीरीज के तहत फिल्म के सभी किरदारों से रू-ब-रू करवाया था।  उन्होंने एक हफ्ते के दरमियान फिल्म के किरदारों के नाम अपने सोशल मीडिया पर उनके लुक के साथ शेयर किए थे। फिल्म के कई सारे पोस्टर्स रिलीज कर दिए गए हैं। अब सलमान इस फिल्म की शूटिंग में पूरी तरह से व्यस्त हैं अब देखना ये हाेगा सलमान की ये फिल्म बड़े पर्दे पर क्या धमाल मचाती है। 

बॉलीवुड में इन दिनों फिर से कास्टिंग काउच पर बहस छिड़ गई है। बता दें कि मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान के बाद अब रणबीर कपूर कास्टिंग काउच को अपनी राय दी। बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर इन दिनों आने वाली संजय दत्त की बायोपीक फिल्म ‘संजू’ को लेकर सुर्खियो में है। वही उन्होने हाल ही में बॉलीवुड में एक बार फिर से कास्टिंग काउच को लेकर छिड़ी बहस पर कोरियोग्राफर सरोज खान के विवादित बयान के बाद अपनी राय शेयर की। रणबीर कपूर ने कास्टिंग काउच को लेकर अपनी राय रखते हुए कहां की 'मैं कभी कास्टिंग काउच का शिकार नहीं हुआ हूं। लेकिन यदि ये इंडस्ट्री में होता है तो काफी दुखद है।' बता दें कि सरोज खान ने हाल ही में कास्टिंग काउच को लेकर बेहद विवादित बयान दिया है। इसकी काफी निंदा भी हो रही है।

सरोज खान ने कहा था, ‘ये सब लड़की के ऊपर होता है कि वो क्या चाहती है। अगर वो किसी के हाथ नहीं आना चाहती तो ना आए। ‘तुम उसके हाथ में नहीं आना चाहती हो तो नहीं आओगी। तुम्हारे पास आर्ट है तो तुम क्यों बेचोगी अपने आप को, फिल्म इंडस्ट्री को कुछ मत कहना, वो तुम्हारी माई-बाप है।’

इसी बीच फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच पर कोरियोग्राफर सरोज खान की टिप्पणी के बाद कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी ने भी इससे पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा, यह सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में ही नहीं, यह हर जगह होता है और यही कड़वी सच्चाई है। ऐसा मत सोचिए कि संसद या दूसरी जगह इससे अछूती है। यह समय है कि भारत को साथ खड़ा होना चाहिए और Me Too कहना चाहिए। 

फिलहाल रणबीर कपूर अपनी आने वाली फिल्म संजू काे लेकर बेहद उत्साहित हैं। इस फिल्म में उनका अलग ही रुप देखने काे मिलेगा। फिलहाल फिल्म के ट्रेलर काे ताे दर्शकाें दवारा बेहद पसंद किया जा रहा है। अब ये फिल्म बड़े पर्दे पर क्या कमाल दिखाएगी ये ताे इस फिल्म के आने के बाद ही पता चलेगा। 

नई दिल्ली। जोधपुर की एक अदालत ने कथावाचक आसाराम को नाबालिग से बलात्कार के मामले में आज दोषी करार दिया। अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अदालत के विशेष न्यायाधीश मधुसूदन शर्मा ने जोधपुर सेंट्रल जेल परिसर में यह फैसला सुनाया। वहीं आसाराम पर फैसला आने के बाद पीड़िता के पिता ने खुशी जताते हुए कहा कि उन गवाहों को भी न्‍याय मिलेगा जिनकी हत्‍या कर दी गई। उन्‍होंने कहा कि आसाराम को दोषी ठहराया गया है और उन्‍हें न्‍याय मिला है।  रेप पीड़िता के पिता कहा कि मैं उन हर एक शख्स का धन्यावाद करता हूं जिन्होंने इस लड़ाई में मेरा साथ दिया। अब मैं आशा करता हूं कि उसे कड़ी सजा मिलेगी। मैं यह भी आशा करता हूं कि जिन गवाहों की हत्‍या कर दी गई या उनका अपहरण कर लिया गया, उन्‍हें भी न्‍याय मिलेगा।

हिरासत में लिया गया आसाराम का एक समर्थक
वहीं सजा सुनाने से पहले सुरक्षा के मद्देनजर जेल परिसर के आसपास निषेधाज्ञा लगाई गई। इसबीच जेल के पास पहुंचने की कोशिश कर रहे उनके एक समर्थक को हिरासत में लिया गया है। आसाराम का एक समर्थक जेल के निकट पहुंचा और उसने उनके पोस्टर पर माला डालने का प्रयास किया लेकिन पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया।  यह पोस्टर जेल की चारदीवारी के बाहर एक कोरिडोर की दीवार पर लगा हुआ था जहां कैदियों के परिवार के सदस्य इंतजार करते हैं। कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बावजूद समर्थक वहां तक पहुंचने में सफल रहा।  आसाराम सेन्ट्रल जेल में बंद हैं और उस ओर जाने वाली दोनों सड़कों को सील कर दिया गया है केवल मीडियाकर्मियों को जेल के बाहर तक जाने की अनुमति है।  कानून और व्यवस्था को खतरे की आशंका के कारण केन्द्र ने राजस्थान , गुजरात और हरियाणा सरकारों से सुरक्षा कड़ी करने और अतिरिक्त बलों को तैनात करने को कहा है। 

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भगोड़े आर्थिक अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए नए अध्यादेश के कार्यान्वयन की शुरुआत विजय माल्या व नीरव मोदी जैसे लोगों के खिलाफ कर सकता है। ईडी भगोड़े आर्थिक अपराधियों के खिलाफ नए अध्यादेश के अधिसूचित होने के बाद माल्या व नीरव मोदी जैसे भगोड़ों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 15,000 करोड़ रुपए से अधिक मूल्य की संपत्तियों को कुर्क करने की तैयारी में है।

जल्द आदेश होगा जारी
निदेशालय के अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने बड़े राशि के घोटालों से सम्बद्ध भगोड़े व बैंक कर्ज नहीं चुकाने वालों के मौजूदा मामलों को एक साथ लाने पर काम शुरू किया है। निदेशालय जल्द ही इन लोगों के खिलाफ नए अध्यादेश के तहत आदेश जारी किए जाने के लिए विशेष मनी लांड्रिंग विरोधी अदालतों का दरवाजा खटखटाएगा। उन्होंने कहा कि पहले चरण में विजय माल्या, ​नीरव मोदी व उसके मामा मेहुल चौकसी, विनसम डायमंड कंपनी के प्रवर्तक जतिन मेहता तथा अन्य के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की उम्मीद है। नए अध्यादेश के कार्यान्वयन के लिए ईडी सक्षम एजेंसी है।

संपत्तियां होंगी कुर्क 
अधिकारियों के अनुसार इस नए अध्यादेश के तहत भगोड़े की देश विदेश सहित उन सभी संपत्तियों को तत्काल कुर्क कर लिया जाएगा जिन्हें ​निदेशालय ने मनी लांड्रिंग निरोधक कानून (पीएमएलए) के तहत अभी तक जब्त नहीं किया है। उन्होंने कहा कि सीबीआई व ईडी द्वारा अपने अपने आरोप पत्र दाखिल किए जाने के बाद नीरव मोदी व चौकसी के खिलाफ मामला नए अध्यादेश के तहत चलेगा। उन्होंने कहा कि पहले चरण में निदेशालय नए अध्यादेशों के प्रावधानों के तहत अनुमानित 15000 करोड़ रुपए की संपत्तियां कुर्क कर सकता है।    

दुनिया में भगवान है इस बात को तो कई लोग मानते हैं लेकिन कुछ लोग खुद ही भगवान बन जाते हैं। इन भगवानों के प्रति लोगों की अटूट आस्था थी। लोग इन्हे अपना सच्चा भगवान मानते थे। जो इनकी पूजा करता था उसकी हर मन्नत पूरी होती थी। लेकिन इन भगवानों को भी जेल की हवा खानी पड़ी। हम बात कर रहे कुछ ऐसे बाबाओं की जो लोगों की नजरों में भगवान से भी ऊपर थें। और बाद में उनकी सच्चाई सामनें आने पर उन्हे जेल की हवा खानी पड़ी। और दुनिया भर की नजरों से गिरना पड़ा। ऐसे कई सारें बाबा है जो दुष्कर्म, जालसांजी, धोखाधड़ी में फंस चुके है। तो आइए जानते है ऐसे ही कुछ बाबाओं की कहानी…

1. आसाराम बापू

जोधपुर कोर्ट ने बाबा आसाराम को जोधपुर कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। इससे पहले कोर्ट ने आसाराम को आसाराम सहित तीन अन्. को दोषी करार दिया था। और शिवा और प्रकाश को बरी कर दिया। कोर्ट ने माना कि बाबा आसाराम बलात्कारी है। उनके साथ शिल्पी उर्फ संचिता, शरतचंद्र को भी कोर्ट ने दोषी माना है। कोर्ट का ये फैसला साढ़े चार साल बाद आया है और इतने सालों तक बाबा आसाराम जेल में थे।

2. बाबा राम रहीम

पिछले साल बाबा राम रहीम पर फैसला आया था। बाबा राम रहीम पर यौन उत्पीड़न और बलात्कार करने के आरोप थे। उन्हें बड़ी मुश्किल से गिरफ्तार किया गया था और गिरफ्तार करने के बाद बड़ी जल्दी कोर्ट ने उन पर फैसला सुनाया था। इस मामले में उनके सर्मथकों ने काफी बवाल किया था।

3. बाबा रामपाल

बाबा रामपाल अपने आप को 445 साल बाद प्रकट होनेवाल वो हिंदू संत करार देते थे जिसका जिक्र सन 1555में प्रसिद्ध भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस ने किया था। इन्होने कहा था कि एक ऐसा हिंदू संत प्रकट होगा, जो पूरी दुनिया में भारत को विश्व गुरू के तौर पर स्थापित करेगा और साल 2006 ये उरूज में आए। रामपाल अपने आप को वही संत बताते थे। बाबा रामपाल अपनी अय्याशी और अपने हाईटेक आश्रम को लेकर सुर्खियों में आएं।

इन्होने अपने आश्रम में हर जगह कैमरे लगा रखे थे। और इनके आश्रम में अय्याशी के लिए हर चीज थी, जैसे बुलेटप्रुफ सिंहासन, फाइवस्टार बेडरूम और आश्रम, हाईटेक तहखाना। इन्हे भी जेल की हवा खानी पड़ी।

4. इच्छाधारी संत बाबा भीमानंद

पैसे ब्याज पर देने के धंधे से भीमानंद ने कई सौ करोड़ रुपए की जायदाद और काला खजाना जुटाया। सांप का साथ होना स्वामी भीमानंद की पहचान बन गया। ये शख्स भगवा चोला ओढ़कर दुनिया को अच्छा बनने का प्रवचन देता था। जब ये गेरुआ वस्त्र पहन कर प्रवचन देता था तो इसका नाम होता था- इच्छाधारी संत स्वामी भीमानंद महाराज चित्रकूटवाले।

लेकिन सांप वाला ये इच्छाधारी बाबा रात ढलते ही अपने असली रूप में आ जाता था। गेरुआ वस्त्र उतर जाता था, पैरों पर टाइट जींस, जिस्म पर नए फैशन की टीशर्ट। हाथों में मोबाइल और महंगी कार से रात के अंधेरे में जिस्म के धंधे का संचालन। ये 600 कॉलगर्ल के साथ जिस्मफरोशी का धंधा चलाते थे। इनका सेक्स रेकेट पकड़ा गया और आज ये जेल की सलाखों के पीछे है।

जोधपुर। नाबालिग से  रेप केस में फंसे धर्मगुरु और कथावाचक आसाराम को कोर्ट ने आज दोषी करार दिया और साथ ही उम्रकैद की सजा भी दी। उम्रकैद की सजा सुनते ही आसाराम वहां पर फूट फूट कर रोने लगा। इसके साथ ही बाकी तीन दोषियों को कोर्ट ने 20-20 साल की सजा सुनाई है।    

लेकिन आसाराम के साथ केस में फंसे शिवा और प्रकाश को अदालत ने बरी कर दिया है। यह अदालत का बड़ा फैसला है। इसके अलावा शिल्पी और शरतचंद्र को भी दोषी करार दिया है। बताया जा रहा है कि कोर्ट में बहस चल रही है और आज ही आसाराम की सजा का एेलान हो सकता है। 

इससे पहले पीडित पक्ष कड़ी से कड़ी सजा की मांग कर रहा था, वहीं आसाराम के समर्थक अपने गुरु के लिए हवन कर रहे थे।  जोधपुर पुलिस ने भी सुरक्षा के मद्देनजर कड़े इंतजाम किए हुए हैं। 

#Visuals from Ahmedabad: Followers of #Asaram praying ahead of #AsaramCaseVerdict#Gujarat pic.twitter.com/Qn96T8mNhz

— ANI (@ANI) April 25, 2018

Live Updates:-

02:31 PM- सजा सुनते ही कोर्ट में फूट-फूट कर रोने लगा आसाराम 

02:31 PM- जोधपुर: आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई 

 02:02 PM - आसाराम पर सजा का ऐलान करने से पहले फैसला पढ़ रहे हैं जज

01:40 PM -आसाराम की सजा का ऐलान थोड़ी देर में, जज कोर्टरूम में मौजूद

01:08 PM-जोधपुरः जज ने आसाराम पर फैसला लिखा

12:43 PM -आसाराम केसः जोधपुर जेल के बाहर जवानों की संख्या बढ़ी

12:37 PM- अहमदाबादः पूर्व डीजी वंजारा आसाराम के आश्रम पहुंचे

12:21 PM -जोधपुरः रेप केस में आसाराम की सजा पर बहस पूरी

12:06 PM- आसाराम ने वकीलों से बोला- कुछ तो बोलो

11:39 AM- दोषी करार दिए जाने पर आसाराम हंसा और बोला-राम राम

11:31 AM- आसाराम को सख्त से सख्त सजा मिले- पीड़िता के पिता

11:28 AM-  आसाराम की तरफ से 14 वकील मौजूद, कम से कम सजा की मांग की

11:07AM- आसाराम केस में बड़ा मोड़,  शिवा और प्रकाश को अदालत ने किया बरी

10: 49AM- रेप केस में आसाराम पर आज ही हो सकता है सजा का  एलान

10:47AM- आसाराम को कोर्ट ने दोषी करार दिया

10:35 AM- जेल परिसर के बाहर निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे का किया जा रहा इस्तेमाल

10ः23 AM- कोर्टरूम में नहीं पहुंचे आसाराम, 15 मिनट तक करता रहा पूजा

10ः07AM-  आसाराम केसः शाहजहांपुर में पीड़िता के घर सुरक्षा कड़ी

10ः00 AM- आसाराम मामले में कोर्ट की कार्यवाई शुरु, सभी आरोपी कोर्ट में मौजूद 

09:59 AM-   जोधपुर कोर्ट में आसाराम वकीलों के साथ मौजूद

09:48 AM -आसाराम केसः जज मधुसूदन शर्मा लिख रहे हैं फैसला  

09:45 AM -आसाराम केसः जज ने फैसला लिखना किया शुरू  

अहमदाबाद। एक समय स्वयंभू बाबा आसाराम लाखों लोगों द्वारा पूजा जाता था और लोगों की इन्हीं भावनाओं का दोहन कर उसने अपना करोड़ों रुपये का भक्ति साम्राज्य खड़ा किया था लेकिन एक नाबालिग से बलात्कार का मामला सामने आने के बाद उसकी प्रतिष्ठा धूल में मिल गई और उसकी सल्तनत ढहनी शुरु हो गई। अदालत ने उसे बलात्कार के इसी मामले में आज दोषी करार दिया।

अगर आकंड़ों की बात करें तो 1970 के दशक में साबरमती नदी के किनारे एक झोंपड़ी से शुरुआत करने से लेकर देश और दुनियाभर में 400 से अधिक आश्रम बनाने वाले आसाराम ने चार दशक में 10,000 करोड़ रुपये का साम्राज्य खड़ा कर लिया। वर्ष 2013 के बलात्कार मामले में आसाराम की गिरफ्तारी के बाद यहां मोतेरा इलाके में उसके आश्रम से पुलिस द्वारा जब्त किए गए दस्तावेजों की जांच से खुलासा हुआ कि 77 वर्षीय आसाराम ने करीब 10,000 करोड़ रुपये की संपत्ति बना ली थी और इसमें उस जमीन की बाजार कीमत शामिल नहीं हैं जो उसके पास है। 

आसाराम के समर्थकों की अब भी अच्छी खासी तादाद हो सकती है लेकिन बलात्कार के आरोपों के बाद उस पर जमीन हड़पने और अपने आश्रमों में काला जादू करने जैसे अन्य अपराधों के आरोप भी लगे। उसकी आधिकारिक वेबसाइट पर मौजूद डॉक्यूमेंटरी के अनुसार आसाराम का जन्म वर्ष 1941 में पाकिस्तान के सिंध प्रांत के बेरानी गांव में हुआ था और उसका नाम असुमल सिरुमलानी था। 

वर्ष 1947 के विभाजन के बाद आसुमल अपने माता-पिता के साथ अहमदाबाद आया और वह मणिनगर इलाके में एक स्कूल में केवल चौथी कक्षा तक पढ़ा। उसे दस साल की उम्र में अपने पिता की मौत के बाद पढ़ाई छोड़नी पड़ी। डॉक्यूमेंटरी में दावा किया गया है कि युवावस्था में छिटपुट नौकरियां करने के बाद आसुमल ‘‘ आध्यात्मिक खोज ’’ पर हिमालय की ओर निकन पड़ा जहां वह अपने गुरु लीलाशाह बापू से मिला। 

यही वह गुरु थे जिन्होंने 1964 में उसे ‘ आसाराम ’ नाम दिया। इसके बाद आसाराम अहमदाबाद आया और उसने मोतेरा इलाके के समीप साबरमती के किनारे तपस्या शुरु की। आध्यात्मिक गुरु के रुप में उसका असल सफर 1972 में शुरु हुआ जब उसने नदी के किनारे ‘ मोक्ष कुटीर ’ स्थापित की। 

साल-दर-साल ‘संत आसारामजी बापू’ के रुप में उसकी लोकप्रियता बढ़ती गई और उसकी छोटी सी झोंपड़ी आश्रम में तब्दील हो गयी। महज चार दशकों में उसने देश और विदेश में करीब 400 आश्रम खोल लिए। यहां तक कि आज मोतेरा आश्रम समर्थकों से भरा पड़ा है जो अब भी यही रट लगाए हुए हैं कि उनके ‘ गुरु ’ को झूठे आरोपों पर जेल भेजा गया। 

आसाराम ने लक्ष्मी देवी से शादी की और उसके दो बच्चे नारायण साई और बेटी भारती देवी है। नारायण साई भी जेल में बंद है। आसाराम पहली बार मुसीबत में तब पड़ा जब उसके दो रिश्तेदार दिपेश और अभिषेक वाघेला वर्ष 2008 में रहस्यमयी परिस्थितियों में मोतेरा आश्रम के समीप मृत पाए गए। 

राज्य सीआईडी ने इस मामले में वर्ष 2009 में आसाराम के सात समर्थकों पर मामले दर्ज किए। दोनों रिश्तेदारों के माता - पिता ने आरोप लगाया कि उन्हें आसाराम के आश्रम में इसलिए मारा गया क्योंकि वे काला जादू करते थे। हालांकि आसाराम की ख्याति असल में वर्ष 2013 में गिरनी शुरु हई जब उसे राजस्थान में नाबालिग से बलात्कार के मामले में गिरफ्तार किया गया। 

इसके बाद सूरत की दो बहनों ने भी आसाराम और उसके बेटे नारायण साईं पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। सूरत पुलिस ने छह अक्तूबर 2013 को दो बहनों की शिकायतों पर मामला दर्ज किया। गांधीनगर की अदालत में आसाराम के खिलाफ यह मामला चल रहा है। उस पर सूरत और अहमदाबाद में अपने आश्रमों के लिए जमीन हड़पने का भी आरोप है। उसके समर्थकों को बलात्कार के मामलों में गवाहों को धमकाने के लिए पकड़ा भी गया था। आसाराम को नाबालिग से बलात्कार के मामले में अदालत ने आज दोषी ठहराया।

Page 1 of 69

Visitor Counter

Today 250

Week 748

Month 837

All 837

Currently are 188 guests and no members online

Facebook LikeBox

Post Gallery

नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप

एबीवीपी का सदस्यता अभियान

कश्मीर में शूटिंग करते सलमान खान की ये तस्वीरें हुर्इ वायरल

मैं कभी कास्टिंग काउच का शिकार नहीं हुआ - रणबीर कपूर

Asaram Verdict: रेप पीड़िता के पिता बोले, न्‍याय मिला

मोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ED, नए अध्यादेश के तहत होगी संपत्ति कुर्क

भगवान बनकर लोगों को लूटने वाले ये चार बाबा भी हैं सलाखों के पीछे

नाबालिग से रेप केस में आसाराम को उम्रकैद, फैसला सुनते ही फूट-फूट कर रोया

आसाराम न्यायालय मे सजा सुनते ही रो पडा